Maqtal E Hazrat Imam Hussain

Maqtal E Hazrat Imam Hussain MP3 Download

Maqtal E Hazrat Imam Hussain MP3 Noha By Mesum Abbas.

Listen online or download this beautiful Noha sharif in the beautiful voice of Mesum Abbas.

Maqtal E Hazrat Imam Hussain is a Noha recited by Mesum Abbas. Listen to this Noha online or download it in MP3 format from thenaatsharif.com

Mesum Abbas Maqtal E Hazrat Imam Hussain is one of the best MP3 Noha.

Maqtal E Hazrat Imam Hussain Noha MP3 Download

To Download Maqtal E Hazrat Imam Hussain in 320kbps, please click on the below image.

Maqtal E Hazrat Imam Hussain MP3 Download

Maqtal E Hazrat Imam Hussain Lyrics

अपने नज़दीक जो ज़हरा को तड़पता देखा
जोड़ कर हाथ हुसैन इब्ने अली ने ये कहा
आपके वास्ते वादे को निभाऊं अम्मा
दे इजाज़त के मैं सर अपना कटाऊं अम्मा

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

ना देखा जाएगा तुमसे हमारी मौत का मन्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

मेरी गर्दन पे ऐ अम्मा छुरी ज़ालिम चलाएगा
नाज़िस ज़ानू वो अपना जिस घड़ी सीने पे रक्खेगा
घुटेगा दम बहुत मेरा चलेगी सांस रुक रुक कर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

हर इक मुश्किल में ऐ अम्मा मदद की आपने मेरी
हमारे साथ दरिया से उठाई लाश ग़ाज़ी की
तुम्हारा शुक्रिया तुमने उठाया लाशा ए अकबर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

मदीना याद आ जाए ना करबल में तुझे अम्मा
मेरी दाढ़ी पकड़ कर शिम्र मारेगा मुझे अम्मा
तुम्हारी तरहं मेरे भी पढ़ेंगे नील चेहरे पर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

यहीं से अलविदा कह दो हमारे पीछे मत आना
तुम्हारा पहलू ज़ख़्मी है नहीं तुम से चला जाना
हमें तकलीफ़ होती है जो तुम चलती हो झुक झुक कर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

तड़प जाएगी अब्बासे जरी की लाश दरिया पर
शहीदों के दिल पर फिर से चल जाएगा इक खन्ज़र
नबी की लाडली तुमको ना लग जाए कहीं पत्थर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

जो तुम झुक झुक के चलती हो तुम्हें पहचान जाएगी
तुम्हारे बैन सुन सुन के तो उसकी जान जाएगी
कहीं घबरा के ज़ैनब आ ना जाए रन में बे-चादर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

 

ना जाने सब्र था सज्जाद कितना शहज़ादी में
कटा शब्बीर का सर फ़ातिमा ज़हरा की झोली में
हुसैन इब्ने अली कहते रहे चलता रहा ख़न्जर
बस अब अम्मा चली जाओ

कहा शब्बीर ने रो कर चलेगा हल्क़ पर ख़न्ज़र
बस अब अम्मा चली जाओ

Popular Tags

  • Maqtal E Hazrat Imam Hussain Mp3 Download
  • Download Maqtal E Hazrat Imam Hussain in Mp3
  • Mesum Abbas Mp3 Nohas
  • Download Mesum Abbas Mp3 Noha “Maqtal E Hazrat Imam Hussain”

Leave a Comment

Your email address will not be published.